Kangana Ranaut said India got independence in 2014 complaint filed against actress EntPKS


नई दिल्ली. कंगना रनौत (Kangana Ranaut) एक बार फिर अपने बयान की वजह से मुश्किल में फंस चुकी हैं. उनके खिलाफ मुंबई में शिकायत दर्ज कराई गई है और साथ ही मुंबई पुलिस से कंगना के खिलाफ कार्रवाई करने का भी अनुरोध किया गया है. दरअसल, कंगना रनौत ने एक कार्यक्रम में कहा कि सावरकर, रानी लक्ष्मीबाई और नेताजी सुभाषचंद्र बोस इन लोगों की बात करूं तो ये लोग जानते थे कि खून बहेगा, लेकिन ये भी याद रहे कि हिंदुस्तानी-हिंदुस्तानी का खून नहीं बहाए. उन्होंने आजादी की कीमत चुकाई, पर वो आजादी नहीं थी वो भीख थी, और जो आजादी मिली है वो 2014 में मिली है’.

कंगना के इस बयान के बाद से उन्हें सोशल मीडिया पर लगातार ट्रोल किया जा रहा है. साथ ही, अभिनेत्री को अब आम आदमी पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष प्रीति मेनन की शिकायत का सामना करना पड़ रहा है. राजनीतिक दल ने अभिनेत्री कंगना रनौत द्वारा दिए गए अपमानजनक बयानों की निंदा की और आग्रह किया कि कंगना के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज किया जाए.

Twitter Printshot

प्रीति मेनन ने ट्वीट किया कि उन्होंने मुंबई पुलिस को एक आवेदन जमा किया है, जिसमें कंगना रनौत पर उनके देशद्रोही और भड़काऊ बयानों के लिए धारा 504, 505 और 124 ए के तहत कार्रवाई का अनुरोध किया गया है.

इसके अलावा कंगना रनौत ने अपना ये बयान जिस कार्यक्रम में दिया है, उसका एक वीडियो क्लिप सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है. साथ ही, कंगना के इस स्टेटमेंट पर भारतीय जनता पार्टी के सांसद वरुण गांधी (Varun Gandhi) ने भी निशाना साधा है, तो एक्ट्रेस स्वरा भास्कर (Swara Bhaskar) ने भी खिंचाई की है. स्वरा भास्कर ने इस वीडियो को शेयर कर लिखा ‘कौन है ये बेवकूफ लोग जो तालियां बजा रहे हैं, मैं जानना चाहती हूं’.

तो वहीं, वरुण गांधी ने कंगना रनौत ने कहा कि ‘कभी महात्मा गांधी जी के त्याग और तपस्या का अपमान, कभी उनके हत्यारे का सम्मान और अब शहीद मंगल पांडेय ले लेकर रानी ल्क्ष्मीबाई, भगत सिंह, चंद्रशेखर आजाद, नेताजी सुभाष चंद्र बोस और लाखों स्वतंत्रता सेनानियों की कुर्बानियों का तिरस्कार. इस सोच को मैं पागलपन कहूं या फिर देशद्रोह?.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.