Shahrukh khan and alia bhatt starrer dear zindagi turns 5 pr


शाहरुख खान (Shah Rukh Khan) की वाइफ गौरी खान (Gauri Khan), करण जौहर (Karan Johar) और गौरी शिंदे (Gauri Shinde) ने मिलकर 5 साल पहले एक ऐसी फिल्म बनाई थी जिसमें जिंदगी को पॉजिटिव तरीके से लेने की सलाह दी थी. ये फिल्म थी ‘डियर जिंदगी’ (Dear Zindagi), जो 25 नवंबर 2016 में रिलीज हुई थी. इस फिल्म में पहली बार शाहरुख के साथ आलिया भट्ट (Alia Bhatt) को काम करने का मौका मिला था. इनके अलावा कुणाल कपूर, आदित्य रॉय कपूर, अंगद बेदी, अली जाफर और इरा दूबे भी थीं. हालांकि ये फिल्म बॉक्स ऑफिस पर कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाई लेकिन जिंदगी को लेकर एक खास फलसफा समझा पाने में जरूर कामयाब हुई थी.

आलिया भट्ट ने पहली बार शाहरुख खान के साथ काम किया

‘डियर जिंदगी’ फिल्म की सबसे बड़ी खासियत यही थी कि यह जिंदगी के प्रति पॉजिटिव और आशावादी होने की बात कहती है. आलिया भट्ट को जब इस फिल्म में काम करने का ऑफर मिला तो उनकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा, क्योंकि इस फिल्म में उन्हें पहली बार किंग खान के साथ काम करने का मौका मिल रहा था. इसके साथ ही जब उन्हें गौरी शिंदे ने फिल्म की कहानी बताई तो स्वीट, सिंपल और यूनिक लगा, इसलिए झटपट फिल्म में काम करने के लिए हामी भर दी.

आलिया भट्ट और शाहरुख ने पहली बार डियर जिंदगी में काम किया था.(फोटो साभार: Movies N Memories/Twitter)

शाहरुख खान की सीख आलिया को आज भी याद है

आलिया भट्ट आज भले ही बड़ी स्टार बन गई हैं. लगातार फिल्मों में काम कर रही हैं, लेकिन जो सबक उन्हें ‘डियर जिंदगी’ में मिला उसे आज भी फॉलो करती हैं. आलिया ने मीडिया को दिए एक इंटरव्यू में बताया था कि ‘जिंदगी में रिस्क लेना बहुत जरूरी है. एक आर्टिस्ट के तौर पर आप जब तक कोई काम करते नहीं, तब तक आपको पता नहीं चल पाता कि आप किस काबिल हैं. रिस्क लेने का कोई सेंस नहीं होता है बस लेना पड़ता है. आलिया को ये सलाह शाहरुख खान ने दी थी. आलिया ने बताया था कि ‘शाहरुख खान ने सलाह दी थी कि रिस्क लो और कभी-कभी बेकार भी बनो. बस ये सोचकर काम करो कि आप कोई स्टूपिड काम कर रहे हो और वह शायद अच्छा हो जाए’.

गौरी के लिए फिल्म लिखना आसान था, बनाना कठिन

फिल्म डायरेक्टर गौरी शिंदे ने सिर्फ ‘डियर जिंदगी’ को डायरेक्ट ही नहीं किया था, बल्कि लिखा भी था. गौरी ने 5 बरस पहले एक ऐसा सब्जेक्ट चुना जिस पर लिखना आसान था लेकिन फिल्म बनाना कठिन. उन्होंने फिल्म के कलाकारों के माध्यम से अपनी बात कही और ये दर्शकों तक पहुंची भी थी. गौरी एक ऐसी डायरेक्टर हैं जो मैसेज के साथ एंटरटेनमेंट देने में विश्वास रखती है. ‘डियर ‘जिंदगी’ में जिंदगी के मायने समझाने की कोशिश की थी, ज्ञान भी दिया था, लेकिन इस बात का ख्याल रखा कि फिल्म बोझिल ना हो.

‘डियर ‘जिंदगी’ की कहानी

‘डियर जिंदगी’ में आलिया भट्ट ने एक ऐसी लड़की का रोल प्ले किया था जो अपने करियर में बहुत कुछ करना चाहती है लेकिन मौका नहीं मिल रहा था. इसके साथ ही लव लाइफ को लेकर भी कंफ्यूजन में थी. मम्मी-पापा उसकी बात समझ नहीं पाते लिहाजा बनती नहीं. उलझन भरी जिंदगी के बीच उसकी मुलाकात शाहरुख खान से होती है. शाहरुख से मुलाकात के बाद जिंदगी को लेकर उसका नजरिया बदल जाता है. उसे समझ आ जाता है कि छोटी-छोटी बातों में हम उलझकर जिंदगी के पॉजिटिव चीजों को देखना बंद कर देते हैं और दुखी रहते हैं.

ये भी पढ़िए-15 Years Of Dhoom 2: ऐश्वर्या को लेकर ऋतिक रोशन को थी ये गलतफहमी, अभिषेक के लिए लकी रहा था वो साल

धर्मा प्रोडक्शन्स, रेड चिलीज एंटरटेनमेंट, होप प्रोडक्शन्स की इस फिल्म में म्यूजिक कमाल का था. ‘लव यू डियर जिंदगी’ गुनगुनाना आज भी रुकी-रुकी सी जिंदगी में उत्साह भर देता है.  ‘डियर ‘जिंदगी’ में संगीत अमित त्रिवेदी ने दिया है.

Tags: Alia Bhatt, Gauri khan, Gauri Shinde, Karan johar, Shah rukh khan