Jacqueline fernandez and nora fatehi received expensive gifts from sukesh chandrasekhar ed nodark


नई दिल्‍ली. महाठग सुकेश चंद्रशेखर (Sukesh Chandrasekhar) तिहाड़ जेल से 200 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के मामले में मुख्य आरोपी है. वहीं, प्रवर्तन निदेशालय (ED) की पूछताछ में इस मामले में कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं. इस केस में बॉलीवुड एक्‍ट्रेस जैकलीन फर्नांडिज (Jacqueline Fernandez) और नोरा फतेही (Nora Fatehi) से सुकेश को सामने बिठाकर पूछताछ हो चुकी है.

इस दौरान जांच अधिकारी ने जैकलिन और चंद्रशेखर से उनकी पहचान, पहली मुलाकात और गिफ्ट समेत करीब 11 सवाल पूछे थे. मुलाकात के सवाल का जवाब देते हुए जैकलिन ने कहा था कि हम दोनों ने इसी साल फरवरी में एक दूसरे से फोन पर बातचीत शुरू की थी और यह सिलसिला अगस्त 2021 तक चला. इस दौरान मैं जून महीने में चेन्नई में सुकेश चंद्रशेखर से जाकर मिली भी थी. इसके साथ जैकलिन ने कहा कि सुकेश ने खुद की पहचान शेखर रतन वेला के रूप में बताई थी. इसके साथ कहा था कि वह सन टीवी का मालिक है और जयललिता का भतीजा है. वहीं, जैकलिन ने कहा कि सुकेश ने मुझे, मेरी बहन और मेरे माता-पिता को कोई बीएमडब्ल्यू कार खरीदकर नहीं दी है. हालांकि इससे पहले सुकेश ने जांच एजेंसी के सामने जैकलीन की बहन और उसके माता-पिता को बीएमडब्ल्यू कार खरीदवाने की बात कबूल की थी.

जैकलिन की बहन के एकाउंट में रुपये हुए ट्रांसफर
इस दौरान जांच एजेंसी ने जैकलिन से पूछा क्या सुकेश ने तुम्‍हारी बहन के अकाउंट में कुछ पैसे ट्रांसफर किए थे जो कि अमेरिका में रहती है. इस पर जैकलिन का जवाब था कि तकरीबन डेढ़ लाख अमेरिकी डॉलर ट्रांसफर किए गए थे. हालांकि सुकेश ने बेहद चालाकी से जवाब देते हुए कहा कि उसे कुछ याद नहीं आ रहा. वैसे इससे पहले वह 185000 डॉलर ट्रांसफर करने की बात स्‍वीकार कर चुका था. इसके अलावा जैकलिन ने ऑस्ट्रेलिया में रह रहे अपने भाई के एकाउंट में सुकेश द्वारा 1500000 ट्रांसफर करने की बात स्‍वीकार की है. वहीं, पूछताछ में जैकलिन और सुकेश के व्हाट्सएप कॉल और व्हाट्सएप वीडियो कॉल के जरिए आपस में बातचीत का खुलासा हुआ है. वहीं, लेखक अद्वेता काला को 15 लाख रुपये देने की बात दोनों मानी है.

जैकलिन को मिले महंगे गिफ्ट
ईडी की पूछताछ के दौरान जैकलिन ने स्‍वीकार किया है कि सुकेश ने उसे एक विदेशी घोड़ा, तीन डिजाइनर बैग जो कि गुच्ची के थे जिनमें कुछ कपड़े चैनल और गुच्ची के थे. इसके अलावा लुईस मिटाउन के शूज, दो डायमंड रिंग, मल्टीस्टोन ईयररिंग, दो हरमेस ब्रेसलेट गिफ्ट किए थे, जिनकी कीमत करोडों रुपये में है. हालांकि सुकेश ने इस बारे में कुछ भी जवाब नहीं दिया है. इसके अलावा जैकलीन ने बताया कि सुकेश ने उसे एक मिनी कूपर कार गिफ्ट की थी, जोकि उसने बाद में वापस कर दी थी.

नोरा फतेही से भी हुई पूछताछ
सुकेश चंदशेखर और फिल्‍म एक्ट्रेस नोरा फतेही से भी ED ने आमने-सामने बिठाकर मनी लॉन्ड्रिंग के एंगल से पूछताछ की. इस दौरान नोरा ने सुकेश से बातचीत और मुलाकात से साफ इनकार किया. हालांकि सुकेश ने कहा कि उसने पिछले साल 21 दिसंबर को एक ईवेंट के दौरान बात की थी. वहीं, सुकेश ने नोरा को बीएमडब्ल्यू कार गिफ्ट करने की बात स्‍वीकार की है. वहीं, एक्‍ट्रेस ने कई कीमती बैग और अन्‍य सामान मिलने की बात से इनकार किया है. हालांकि वह व्हाट्सएप पर सुकेश से बात करती थीं. साथ ही ईडी की पूछताछ में पता चला है कि नोरा को भी सुकेश ने खुद का नाम शेखर बताया था.

कौन है सुकेश चंद्रशेखर?
कर्नाटक के बेंगलुरु के रहने वाले चंद्रशेखर ने कथित रूप से महज 17 साल की उम्र से ही लोगों को ठगना शुरू कर दिया था. उसने काले कारनामों की शुरुआत बेंगलुरु से की और कुछ ही समय में चेन्नई पहुंच गया. इसके बाद उसने बड़े शहरों में कई अमीर लोगों को ठगी का शिकार बनाया. चंद्रशेखर को बालाजी के नाम से भी जाना जाता है. उसने नौकरी दिलाने के नाम पर कई लोगों को चूना लगाया. खबर है कि खुद को राजनेता का रिश्तेदार बताकर उसने 100 से ज्यादा लोगों से 75 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की है.

चंद्रशेखर के खिलाफ दर्ज मामले
2017 में चुनाव आयोग रिश्वत मामले में चंद्रशेखर को एक होटल से गिरफ्तार कर तिहाड़ जेल ले जाया गया था. आरोप था कि उसने ‘दो पत्तियों’ वाले चुनावी चिन्ह के मामले में आयोग के अधिकारियों को रिश्वत देने के लिए AIADMK (अम्मा) नेता टीटीवी दिनाकरण से रुपये लिए थे. कहा जा रहा है कि उसने AIADMK (अम्मा) गुट को चुनावी चिन्ह दिलाने के लिए 50 करोड़ रुपये में डील की थी. गिरफ्तारी के वक्त उसके पास से कथित रूप से 1.3 करोड़ रुपये बरामद हुए थे. सुकेश के तिहाड़ जेल में बंद होने के बाद खबरें आई थीं कि हवालात में होने के बाद भी वह करोड़ रुपये की वसूली का रैकेट चला रहा है.

क्या है नया मामला
दरअसल नया मामला फोर्टिस प्रमोटर शिविंदर सिंह की पत्नी अदिति एस सिंह की शिकायत पर दर्ज किया गया था. उन्होंने आरोप लगाया है कि वे 200 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का शिकार हुई हैं. उन्होंने बताया कि कॉल करने वाले शख्स ने खुद को कानून मंत्रालय का अधिकारी बताया था और उनके पति को जमानत दिलाने का वादा किया था. दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने अदिति सिंह की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया है. एक पुलिस अधिकारी ने जानकारी दी कि मामले की जांच के बाद पता चला कि इसके पीछे का मास्टरमाइंड सुकेश चंद्रशेखर है.

Tags: Jacqueline fernandez, Nora Fatehi, Sukesh Chandrasekhar