The Omicron Variant Movie poster viral on social media truth behind viral pic ps

[ad_1]

मुंबईः कोरोना वायरस (Covid 19) ने दो सालों से दुनिया भर में तहलका मचा रखा है और अब इसका नया वेरियेंट लोगों के बीच चिंता का विषय बना हुआ है. हाल ही में भारत में भी कोरोना वायरस के ओमिक्रॉन वेरियेंट (Omicron Variant) के पहले दो मामले सामने आए हैं. देश में ओमिक्रॉन वेरियेंट (Covid 19 Omicron Variant) के दस्तक देते ही सोशल मीडिया पर एक फिल्म का पोस्टर छाया हुआ है, जिसका टाइटल ‘ओमिक्रॉन वेरियेंट’ है. इस पोस्टर को देखकर लगता है, जैसे सालों पहले ही ओमिक्रॉन वेरियेंट की भविष्यवाणी हो गई थी.

हॉरर थीम वाले पोस्टर में एक लड़का और एक लड़की की तस्वीर है जो एक तारों से भरे आकाश की ओर डर के साथ निहार रहे हैं. वहीं उनके पीछे खून से लथपथ बड़ा सा हाथ नजर आ रहा है. हाथ में एक चींटी भी नजर आ रही है. इस पोस्टर के टैगलाइन में लिखा है- ‘जिस दिन पृथ्वी एक कब्रिस्तान में बदल जाएगी.’

इस पोस्टर के वायरल होते ही सोशल मीडिया पर तरह-तरह की चर्चा शुरू हो गई है. नेटिजेंस का कहना है कि ओमिक्रॉन वेरियेंट की भविष्यवाणी बहुत पहले ही हो गई थी. लगातार इस पोस्टर को सोशल मीडिया पर रिट्वीट किया जा रहा है, जिसके साथ यूजर तरह-तरह की प्रतिक्रिया दे रहे हैं.

‘द ओमिक्रॉन वेरिएंट’ का पोस्टर एक आयरिश निर्देशक बेकी चीटल ने बनाया है. (फोटो साभारः ट्विटरः @BeckyCheatle)

दरअसल, यह पोस्टर आयरिश निर्देशक बेकी चीटल ने बनाया है. उन्होंने मजाकिया तौर पर यह पोस्टर बनाया था. 1974 में आई स्पैनिश फिल्म सुसेस एन ला कुआर्टा फासे (Sucesos en la cuarta fase) फेज IV के पोस्टर को एडिट करते हुए उन्होंने ‘द ओमिक्रॉन वैरिएंट’ का पोस्टर बनाया है, जो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

पोस्टर वायरल होने पर चीटल ने ट्विटर पर एक पोस्ट शेयर किया, जिसके साथ उन्होंने साफ किया कि यह पोस्टर एक मजाक है, जिसे उन्होंने एंटरेनमेंट के लिए बनाया था. क्योंकि, फिल्म उन्हें COVID 19 का नया वेरियेंट क्लासिक साइंस फिक्शन मूवी के लिए अच्छा नाम लग रहा था.

Tags: Entertainment, Hollywood, Omicron variant



[ad_2]